राष्ट्रीय खेल पुरस्कार 2023

राष्ट्रीय खेल पुरस्कार हर साल युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा प्रदान किए जाते हैं। पुरस्कारों को भारत के राष्ट्रपति द्वारा नई दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में प्रस्तुत किया जाता है। इन पुरस्कारों को पहली बार 1956-57 में प्रदान किया गया था।

राष्ट्रीय खेल पुरस्कार छह पुरस्कारों का एक सामूहिक नाम है, जिनके नाम हैं- मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार (खेल रत्न), अर्जुन पुरस्कार, द्रोणाचार्य पुरस्कार, ध्यानचंद पुरस्कार, मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ट्रॉफी (MAKA ट्रॉफी) और राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार।

पुरस्कार समारोह सामान्यत: 29 अगस्त को होता है, लेकिन इस साल इसमें देरी हो गई थी और हाल ही में, यह 9 जनवरी, 2024 को हुआ।

ALSO READ- National Sports Awards 2023 in English…

पुरस्कारों की सूची-

1. मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार-

यह पुरस्कार पिछले चार वर्षों में किसी खिलाड़ी के उत्कृष्ट प्रदर्शन को मान्यता देता है। प्राप्तकर्ताओं को एक पदक, एक प्रमाण पत्र और ₹25 लाख का नकद पुरस्कार मिलता है।

इस साल चिराग शेट्टी और सात्विक साईराज रंकीरेड्डी की बैडमिंटन जोड़ी ने मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार जीता।

2. अर्जुन पुरस्कार-

यह पुरस्कार भी पिछले चार वर्षों में किसी खिलाड़ी के उत्कृष्ट प्रदर्शन को मान्यता देता है, लेकिन इसमे प्राप्तकर्ताओं को अर्जुन की एक कांस्य प्रतिमा, एक प्रमाण पत्र, एक औपचारिक पोशाक और ₹15 लाख का नकद पुरस्कार मिलता है।

इस वर्ष 26 खिलाड़ियों को इस पुरस्कार के लिए चुना गया-

  • ओजस प्रवीण देवताले (तीरंदाजी)
  • अदिति गोपीचंद स्वामी (तीरंदाजी)
  • मुरली श्रीशंकर (एथलेटिक्स)
  • पारुल चौधरी (एथलेटिक्स)
  • मोहम्मद हुसामुद्दीन (मुक्केबाजी)
  • आर. वैशाली (शतरंज)
  • मोहम्मद शमी (क्रिकेट)
  • अनुश अग्रवाल (घुड़सवारी)
  • दिव्याकृति सिंह (घुड़सवारी ड्रेसेज)
  • दीक्षा डागर (गोल्फ)
  • कृष्ण बहादुर पाठक (हॉकी)
  • सुशीला चानू (हॉकी)
  • पवन कुमार (कबड्डी)
  • रितु नेगी (कबड्डी)
  • नसरीन (खो-खो)
  • पिंकी (लॉन बाउल्स)
  • ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर (शूटिंग)
  • ईशा सिंह (शूटिंग)
  • हरिंदर पाल सिंह संधू (स्क्वैश)
  • अयहिका मुखर्जी (टेबल टेनिस)
  • सुनील कुमार (कुश्ती)
  • अंतिम पंघाल (कुश्ती)
  • नाओरेम रोशिबिना देवी (वुशु)
  • शीतल देवी (पैरा-तीरंदाजी)
  • इलूरी अजय कुमार रेड्डी (ब्लाइंड क्रिकेट)
  • प्राची यादव (पैरा-कैनोइंग)

3. द्रोणाचार्य पुरस्कार-

द्रोणाचार्य पुरस्कार उन कोचों को दिया जाता है जिन्होंने प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं हेतु पदक विजेता तैयार किए हैं। पुरस्कार में द्रोणाचार्य की एक कांस्य प्रतिमा, एक प्रमाण पत्र, एक औपचारिक पोशाक और ₹15 लाख का नकद पुरस्कार शामिल है।

इस वर्ष 5 खिलाड़ियों ने यह पुरस्कार जीता-

  • ललित कुमार (कुश्ती)
  • आरबी रमेश (शतरंज)
  • महावीर प्रसाद सैनी (पैरा-एथलेटिक्स)
  • शिवेन्द्र सिंह (हॉकी)
  • गणेश प्रभाकर देवरुखकर (मल्लखंब)

4. ध्यानचंद पुरस्कार-

ध्यानचंद पुरस्कार उन लोगों को दिया जाता है जिन्होंने खेल विकास में आजीवन योगदान दिया है। विजेताओं को एक ध्यानचंद प्रतिमा, एक प्रमाण पत्र, एक औपचारिक पोशाक और ₹10 लाख का नकद पुरस्कार मिलता है।

इस वर्ष 3 खिलाड़ियों को यह पुरस्कार मिला-

  • मंजूषा कंवर (बैडमिंटन)
  • विनीत कुमार शर्मा (हॉकी)
  • कविता सेल्वराज (कबड्डी)

5. मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ट्रॉफी (MAKA ट्रॉफी)-

पिछले एक वर्ष में अंतर-विश्वविद्यालय टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विश्वविद्यालय को मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ट्रॉफी प्रदान की जाती है।

इस वर्ष 3 विश्वविद्यालयों को यह पुरस्कार मिला-

  • गुरु नानक देव विश्वविद्यालय, अमृतसर (प्रथम)
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी, पंजाब (द्वितीय)
  • कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरूक्षेत्र (तृतीय)

6. राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार-

राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार उन संगठनों (निजी और सार्वजनिक दोनों) और व्यक्तियों को प्रदान किया जाता है जिन्होंने पिछले तीन वर्षों में खेलों को बढ़ावा देने और विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हो।

इस वर्ष इस पुरस्कार के दो विजेता हैं-

श्रेणीसंस्था जिसे सम्मानित किया
1. नवोदित/युवा प्रतिभा की पहचान एवं पोषणजैन डीम्ड यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु
2. कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के माध्यम से खेलों को प्रोत्साहनओडिशा माइनिंग कॉर्पोरेट लिमिटेड